Sammohan Vidya Kaise Sikhe

किसी को सम्मोहित कैसे करें

     

सम्मोहन विद्या को लेकर दुनिया में तरह-तरह की बाते होती रहती हैं. कुछ लोग इसे सिर्फ एक अंधविश्वास मानते हैं और कुछ लोगों को इस बात पर भरोसा है कि किसी को सम्मोहित करके उससे कोई भी कार्य करवाया जा सकता है. सच्चाई क्या है, हम इस आर्टिकल की मदद से आपको बताने जा रहे हैं.

Sammohan Vidya ke Baare Mein Jankari

क्या होती है सम्मोहन विद्या?

सम्मोहन विद्या दरअसल किसी व्यक्ति के दिमाग को नियंत्रित करने की एक कला है. इस कला में सम्मोहन करने वाला व्यक्ति के दिमाग को निद्रा की गहन अवस्था में ले जाता है, जिससे व्यक्ति के अंदर प्रतिरोध या विरोध करने की क्षमता कम या खत्म हो जाती है. हम आपको बता दे कि दुनिया में सम्मोहन  विद्या या हिप्नोटिज्म का प्रयोग वैज्ञानिक आधार पर किया जाता है.

सम्मोहन का प्रयोग करके डाॅक्टर मरीजों के मानसिक रोगों को दूर करने का काम कर रहे हैं. यूरोप में इस तरह के कई स्कूल हैं जो सम्मोहन विद्या में अपने मनोवैज्ञानिको को पारंगत करते हैं. इन संस्थानों में मनोवैज्ञानिक मानसिक रोगियोें के साथ प्रयोग करते हैं. उनकी समस्याओं को जानने का प्रयास करते  हैं और उनको मानसिक रूप से स्वस्थ बना देते हैं. सम्मोहन के इन प्रयोगों पर कई रिसर्च पेपर प्रकाषित हो चुके हैं. सम्मोहन विद्या पर कई प्रमाणिक पुस्तकें भी प्रकाशित हो चुकी हैं. भारत में सम्मोहन विद्या पर पश्चिम बंगाल में काफी काम हुआ है. कई बंगाली विद्वानों ने इस विषय पर पुस्तके भी लिखी हैं.

Hypnotize Techniques in Hindi

कैसें करते हैं किसी को सम्मोहित?

सम्मोहित करने के लिए पहले मनोवैज्ञानिक किसी व्यक्ति की स्वीकृति लेते हैं. इसके बाद वे किसी खास वस्तु अक्सर कोई चमकीली चीज जैसे हीरा या फिर सोने से बनी कोई आकृति लेकर उस पर मरीज का ध्यान केन्द्रित करवाते हैं.
जब मरीज एकाग्र होकर उस वस्तु को देखता है तो निद्रा या नींद में चला जाता है. इस अवस्था में व्यक्ति का चेतन मस्तिष्क तो सो जाता है लेकिन अचेतन दिमाग अपना काम करता रहता हैं. ऐसे में मनोवैज्ञानिक उस व्यक्ति से अलग-अलग तरीके के प्रश्न पूछता है और उसके उत्तर प्राप्त कर उसकी तकलीफ को दूर करने का प्रयास करते हैं. इस विद्या को किसी प्रैक्टिशनर के साथ रहकर सीखा जा सकता है और सम्मोहन विद्या का उपयोग कर लोगों की भलाई की जा सकती है.

क्या होता है सम्मोहन मंत्र?

सम्मोहन मंत्र का भारत की तंत्र विद्या में बहुत सम्मान है. इसे वशीकरण मंत्र और मोहिनी विद्या भी कहा जाता है. हम यहां आपको सम्मोहन मंत्र या वशीकरण मंत्र बताएंगे और उसे साधने का तरीका भी बताया जाएगा.

कामदेव का सम्मोहन मंत्र

कामदेव के सम्मोहन मंत्र की मदद से आप अपने प्रेमी को अपनी ओर आकर्षित करने में सफल हो सकते हैं. इस मंत्र का जाप करने से प्रेम में सफलता और इच्छित जीवन साथी मिलने की संभावना बढ़ जाती है. शादीशुदा लोगों की वैवाहिक जीवन में प्रेम का संचार होता हैं. कामदेव का सम्मोहन मंत्र इस प्रकार है-
“ऊँ कामदेवाय विद्महे, रति प्रियायै धीमहि, तन्नो अनंग प्रचोदयात‍्।”

कैसे करें इस मंत्र का जाप?

प्रातः काल ब्रह्म मुहूर्त में उठकर स्नान करने के पष्चात साफ जमीन पर कम्बल का आसन लगाकर कामदेव का ध्यान करें. सुंगधित अगरबत्ती का उपयोग भी करें तो अच्छा होगा. इस मंत्र का 101 बार जप करें. रात को भी स्नान कर इस  विधि को दोहराएं. ऐसा 3 माह तक बिना किसी किसी बाधा के करने पर मंत्र सिद्ध हो जाएगा और आपका प्रेमी आपके पास खींचा चला आएगा.

भारत में सम्मोहन विद्या का इतिहास

सम्मोहन विद्या का भारत से बहुत पुराना नाता है. भगवान कृष्ण को सम्मोहन विद्या का गुरू माना जाता है. उनकी बांसुरी से निकलने वाली मोहक धुन से गाएं और गोपियां खींची चली आती थी. भगवान कृष्ण ने भी एक सम्मोहन साधना मंत्र दिया है.

कृष्ण का सम्मोहन मंत्र

इस सम्मोहन मंत्र का जाप करने से सम्मोहन विद्या सिद्ध हो सकती है. इसके लिए पहले श्रीकृष्ण जी की मूर्ति के सामने बैठ कर पूजा करें. फिर सुपारी चढ़ाकर घी का दीप जलाए और सफेद मिष्ठान का भोग लगाएं. इसके बाद पंचोपचार करना चाहिए. सफेद स्फटिक की दो दिन तक रोज 11 माला फेरें. सम्मोहन मंत्र इस प्रकार है.
ॐ क्लीं क्लीं क्रीं क्रीं हुं हुं फट्।”

सम्मोहन साधना में रखें इन बातों का ध्यान 

सम्मोहन साधना में मंत्र जाप का अभ्यास के तीन चरण होते हैं. पहले चरण में मंत्र को जोर-जोर से बोलकर उच्चारित करें ताकि मन एक जगह एकाग्र होना सीख जाए.
जब इसका अभ्यास हो जाए तो मंत्र को धीरे-धीरे बोलना चाहिए और मंत्र की ध्वनि पर ध्यान केन्द्रित करना चाहिए. इस अवस्था को प्राप्त कर लेने के बाद तीसरी अवस्था में मंत्र को अपने मन में उच्चारित करना चाहिए. इस अवस्था को प्राप्त कर लेने के बाद आप पाएंगे कि आपने मंत्र को सिद्ध कर लिया है और आप मनचाहे व्यक्ति को सम्मोहित करने में सफल होंगे.

सम्मोहन विद्या का कभी भी गलत इस्तेमाल नहीं करना चाहिए क्योंकि ऐसा करने पर विद्या नष्ट हो जाती है और उसका गलत इस्तेमाल करने वाला कई समस्याओं से घिर जाता है. किसी भी शक्ति का दुरूपयोग नर्क के द्वार खोल देता है.

ज्योतिष सीखें

0 Comments

Add Yours →

Leave a Reply