ayurved ke gharelu nuskhe in hindi- काली मिर्च के औषधीय गुण

काली मिर्च का जादू

Black Pepper Benefits in Hindi

gharelu nuskhe- काली मिर्च खाने का सिर्फ स्वाद ही नहीं बढ़ाती, इसके औषधीय गुण भी कमाल के हैं. पेट दर्द, भूख न लगने, बदहजमी, हैजा जैसी कई परेशानियों में इसका उपयोग फायदेमंद होता है. आइए जानते हैं काली मिर्च के फायदों और इसे उपयोग करने की विधियों के बारे में.

ayurved ke gharelu nuskhe in hindi

पेट के रोग का घरेलू इलाज

तीन सौ ग्राम काली मिर्च चीनी के बर्तन में डालें और इसमें लाहौरी नमक 75 ग्राम बारीक पीस कर डालें. फिर 75 ग्राम तेजाब गंधक और तीन सौ ग्राम नींबू का रस डाल कर चीनी के दूसरे प्याले से ढक दें. जब सारा पानी मिर्चों के अन्दर ही सूख जाए और मिर्च बिल्कुल शुष्क हो जाएं तो शीशी में सम्भाल कर रख लें.

सेवन-विधि – भोजन के पश्चात पांच सात मिर्च खाएं. यह खाई हुई खुराक को खूब हजम कर देती हैं, और खाने में भी बहुत स्वाद होती है

लाभ – पेट-दर्द, सूल, भूख न लगना इत्यादि शिकायतों में अत्यन्त लाभदायक है.

dadi maa ke gharelu nuskhe in hindi

कब्ज का रामबाण उपचार काली मिर्च

ताजा फूल 150 ग्राम, काली मिर्च 75 ग्राम, काला नमक 75 ग्राम-तीनों चीजें बारीक पीसकर जगंली बेर के बराबर गोलियां बना लें.

लाभ-हर प्रकार की कब्ज, पेट-दर्द वायुगोला, बदहजमी तथा पेट के दूसरे विकारों के लिए रामबाण औषधि है. एक दिन में चार गोली तक ताजा पानी के साथ दें. जिन लोगों को कब्ज और बादी की पुरानी शिकायत हो, उनको भोजन के पश्चात एक-एक गोली कुछ समय तक देना अत्यन्त लाभदायक है.

सेवन-विधि – एक या दो गोली अर्क पोदीना के साथ दे.

Home remedies of Cholera हैजा का घरेलू उपचार

काली मिर्च 30 ग्राम, हींग 15 ग्राम, कपूर 15 ग्राम, अफीम सब कूट कर दो सौ-ग्राम आर्क के फूल का तरल करे और जगंली बैर के बराबर गोलियां बना लें.

सेवन-विधि – एक या दो गोली अर्क पोदीना के साथ दें.

Home remedy for gum painमसूड़ों के दर्द का घरेलू उपाय

काली मिर्च, माजूफल और सेंधा नमक की बराबर मात्रा लें. इन तीनों को  मिलाकर चूर्ण बना लें. इस चूर्ण में सरसों के तेल की कुछ बूंद मिलाकर दांतों और मसूड़ों पर हल्के हाथ से लगाएं और आधे घंटे के बाद मुंह साफ कर लें. इससे आपको दांत और मसूड़ों में दर्द की समस्या से निजात मिल जाएगी.

Home remedy for Dandruff- रूसी की समस्या का घरेलू उपचार

काली मिर्च को पीसकर इसका चूर्ण बना लें. काली मिर्च के एक चम्मच चूर्ण को दही में मिलाएं और इसे बालों के नीचे सिर की त्वचा में लगायें. आधा घंटे तक यूं ही लगा रहने दें. इसके बाद पानी से धो दें. अगले दिन बालों को  शैम्पू से भली प्रकार धो लें .
ऐसा करने से आपको सिर में डैंड्रफ अथवा रूसी की समस्या से छुटकारा मिल जाएगा.

यह भी पढ़ें:

नोट : ऊपर दिये गए नुस्खे अनुभव और पुरातन ज्ञान पर आधारित है. इनको उपयोग में लेने से पहले किसी अनुभवी वैद्य से परामर्श लें. हिन्दी हाट पर यह जानकारी केवल सूचनार्थ है. कृपया उपयोग में लेने से पहले अपने विवेक का उपयोग करें. 

0 Comments

Add Yours →

Leave a Reply