Harmful effects of depression in hindi

क्या नुकसान है अवसाद से?

हम अक्सर महसूस करते हैं कि हमारा शरीर उस तरह से फिट नहीं है जैसा कुछ समय पहले तक हुआ करता था. हम अक्सर अपने शरीर में हो रहे छोटे—छोटे बदलावों को नजरअंदाज करते हैं. अपनी दैनिक जिंदगी की दूसरी परेशानियों के बीच हम भूल जाना चाहते हैं कि स्वस्थ रहने से ज्यादा कीमती कुछ नहीं है.

इन परेशानियों के बीच अवसाद हमें कब आ घेरता है हम जान ही नहीं पाते. अवसाद (depression) न सिर्फ हमें मानसिक तौर पर नुकसान पहुंचाता है बल्कि शारीरिक तौर पर बुरा असर डालता है. आइए जाने अवसाद हमारे शरीर को किस तरह नुकसान पहुंचाता है: (depression meaning in hindi) अवसाद से नुकसान

अवसाद और भूख (depression and hunger)

अवसाद (depression) में या तो भूख एकदम खत्म हो जाती है या फिर मरीज बहुत ज्यादा खाने लगता है. दोनों की बदलावों से वजन में भी बदलाव आता है.

अवसाद और सिर दर्द (depression and headache)

अवसाद (depression) का पहला लक्षण होता है जिसमें सिर में लगातार हल्का दर्द बना रहने लगता है जो समय के साथ भारीपन और तेज दर्द में बदल जाता है.

अवसाद और जोड़ों में दर्द (depression and Joint pain)

बड़ी उम्र के मरीजों में अवसाद (depression) जोड़ों के दर्द का भी कारण बन सकता है.

अवसाद और पीठ दर्द (depression and back pain)

अक्सर ढेरों अवसाद (depression) के रोगियों में यह देखने में आया है कि उन्हें कमर या पीठ में दर्द की शिकायत रहती है.

अवसाद और रक्तचाप (depression and blood pressure)

अवसाद (depression) मरीज के रक्त चाप पर भी बुरा असर डालता है और इस कारण हृदय क्षतिग्रस्त होने की संभावना रहती है. सीने में दर्द की शिकायत होने पर तुरंत अपने डॉक्टर से सम्पर्क करें.

अवसाद और पाचन (depression and Digestion)

अवसाद (depression) वाले ज्यादातर मरीज अपच की शिकायत करते हैं. दरअसल अवसाद के मरीजों में पाचक रस अनियमित हो जाते हैं.

अवसाद और थकान  (depression and Fatigue)

अवसाद (depression) के मरीज अक्सर थकान और सुस्ती की शिकायत करते हैं. अवसाद में शरीर में थकान का लगातार अनुभव करता है.

अवसाद और चक्कर

कई अवसाद (depression) के मरीज सिर घूमने या फिर चक्कर आने की शिकायत भी करते हैं.

अवसाद और नींद (depression and sleep)

अवसाद (depression) के मरीज को नींद अच्छी नहीं आती है. अक्सर वे नींद  के दौरान सपने देखते हैं और बार—बार ​नींद टूटने की शिकायत करते हैं.

अवसाद और गुस्सा (depression and anger)

अवसाद का मरीज चिड़चिड़ा और गुस्सैल हो जाता है.
यह भी पढ़ें:

0 Comments

Add Yours →

Leave a Reply