venkaiah naidu biography in hindi

उप राष्ट्रपति वेंकैया नायडू की जीवनी

       देश के 13वें उपराष्ट्रपति श्री एम वेंकैया नायडू का जन्म 1 जुलाई 1949 को आंध्र प्रदेश के नेल्लोर जिले में हुआ. उनके पिता का नाम श्री रंगिया नायडू और माता का नाम श्रीमती रमणम्मा था. उनकी पत्नी का नाम श्रीमती मुप्पावरपु उषा है उनके परिवार में 1 पुत्र और 1 पुत्री है. किसान परिवार में जन्मे श्री नायडू ने स्नातक के बाद विशाखापट्टनम के लॉ कॉलेज से बैचलर ऑफ लॉ की उपाधि प्राप्त की. उन्होंने अपने सार्वजनिक जीवन की शुरुआत छात्र जीवन में ही कर दी थी.  1971 में वे नेल्लोर के वीआर कॉलेज के छात्र संघ अध्यक्ष चुने गए. इसके बाद वह आंध्र विश्वविद्यालय छात्रसंघ अध्यक्ष आंध्रप्रदेश की लोकनायक जयप्रकाश छात्र संघर्ष समिति के संयोजक आंध्र प्रदेश में जनता पार्टी की यूथ विंग के अध्यक्ष भी चुने गए.

आरंभिक जीवन

  • राजनीति के अलावा श्री वेंकैया नायडू कृषि स्वास्थ्य पशु कल्याण एवं शिक्षा के क्षेत्र में भी सक्रिय भूमिका निभाते रहे हैं. 
  • राजनीतिक एवं सामाजिक रूप से महत्वपूर्ण विषय पर उनके लिए समय-समय पर विभिन्न समाचार पत्रों में प्रकाशित होते रहे हैं. राष्ट्रीय अंतर्राष्ट्रीय विषयों पर उनकी गहरी पकड़ है. 
  • उन्होंने अमेरिका, ब्रिटेन, मलेशिया, सिंगापुर, फ्रांस, मॉरिशस, बेल्जियम, नीदरलैंड, ऑस्ट्रेलिया, मालदीव, दुबई, हांगकांग, थाईलैंड, स्पेन, इजिप्ट और जर्मनी की यात्राएं की हैं.

राजनीति की शुरूआत

वे छात्र जीवन में आपातकाल के दौरान मीसा के अंतर्गत जेल भी जा चुके हैं. 

वह अपने संसदीय जीवन के दौरान गृह मामलों की समिति, कृषि मामलों की परामर्शदात्री समिति, वित्त समिति, ग्रामीण विकास की परामर्शदात्री समिति, विदेश मामलों की समिति, उपभोक्ता मामलों की परामर्शदात्री समिति के सदस्य रहने के साथ-साथ आपदा प्रबंधन पर संसदीय फोरम क अध्यक्ष एवं मानव संसाधन विकास पर संसदीय समिति के अध्यक्ष भी रहे  हैं.

श्री नायडू ने अपने छात्र जीवन और राजनीतिक जीवन में अपनी विशिष्ट भाषण शैली के द्वारा अपनी छाप छोड़ी है और ग्रामीणों, किसानो और वंचित तबके के उत्थान के लिए लगातार कार्य किया है. 

आपातकाल के दौरान मूलभूत अधिकारों एवं पवित्र संविधान की रक्षा के लिए उन्होंने कई महीने जेल में बिताएं.

राजनीति में करिअर

कैबिनेट मंत्री से उपराष्ट्रपति तक

26 मई 2014 को नायडू ने नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व वाली राजग सरकार में केबिनेट मंत्री की शपथ ली और शहरी विकास, आवासन एवं शहरी गरीबी उन्मूलन तथा संसदीय मामलात मंत्री का कार्यभार सम्भाला. 5 जुलाई, 2016 को नायडू नें सूचना एवं प्रसारण मंत्री का पदभार भी संभाला. वर्ष 2017 में देश के 13वें उपराष्ट्रपति पद के लिए राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन के उम्मीदवार के तौर पर चुना गया है.

0 Comments

Add Yours →

Leave a Reply