republic day speech in hindi- गणतंत्र दिवस पर निबंध

Essay on Republic day गणतंत्र दिवस पर निबंध republic day India article

republic day India 2018 भारत के राष्ट्रीय पर्वों में से एक गणतंत्र दिवस हर वर्ष 26 जनवरी को मनाया जाता है. देश की आजादी 15 अगस्त, 1947 को हुई थी उसके बाद 26 जनवरी, 1949 तक देश के कानून बनाने में बाबा साहब भीम राव अंबेडकर republic day India Ambedkar और उनकी टीम ने काम किया.
26 जनवरी 1949 के दिन को इसीलिए देश में राष्ट्रीय पर्व के रूप में मनाया जाता है republic day India meaning क्योंकि इस दिन लोकतांत्रिक प्रणाली के साथ लागू किया गया जो कि हमारे देश के चाहे फिर वह पुलिस तंत्र हो, न्याय तंत्र हो और विदेशी मामलो से लेकर गांव ढाणी तक के छोटे से छोटी समस्याओं के हल निकालने के लिए आज भी हमारा कानून काम कर रहा है.
26 जनवरी को इस पवित्र काम के लिए इसीलिए चुना गया क्योंकि इसी दिन 1930 में भारती राष्ट्रीय कांगेस ने पूर्ण स्वराज घोषित किया था. भारत के तीन बड़े राष्ट्रीय पर्वों में से यह एक है. इसके अलावा स्वतंत्रता दिवस और गांधी जयंती को इस सूची में रखा जाता है. इन तीनों दिन पूरे देश में हर्ष उल्लास का माहौल होता है. जगह-जगह कार्यक्रमों का आयोजन होता है और राजकीय अवकाश भी होता है.

 

republic day india history क्या है गणतंत्र दिवस का इतिहास?

republic day india facts देश के इतिहासकारो के अनुसार 1929 के दिसम्बर माह में भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस का लाहौर में अधिवेशन हुआ जिसकी अध्यक्षता पंडित जवाहर लाल नेहरू ने की थी. उस अधिवेशन में यह प्रस्ताव पारित कर इस बात की घोषणा की गई थी कि यदि अंग्रेज सरकार 26 जनवरी 1930 को डोमिनियन का पद प्रदान नहीं करेगी तो हम देश को स्वतंत्र घोषित कर देंगे.
26 जनवरी, 1930 तक अंग्रेज सरकार ने जब कुछ न किया तो कांग्रेस ने भारत के पूर्ण स्वराज्य की घोषणा की और इसके लिए आंदोलन प्रारंभ किया और भारत की आजादी तक 26 जनवरी को स्वतंत्रता दिवस के तौर पर मनाया जाता था.
पर भारत के आजाद हो जाने के बाद 15 अगस्त 1947 को जब भारत के स्वतंत्रता दिवस के दौर पर स्वीकार किया गया तब 26 जनवरी republic day india date के लिए संविधान स्थापित करने का निर्णय लिया गया और उस दिन को ऐतिहासिक बनाये रखने के लिए इस दिन से सन् 1950 से भारत का संविधान अंगीकार किया गया और इसे गणतंत्र दिवस की संज्ञा दी गई.
आजादी के बाद संविधान सभा की घोषणा हुई जिसने अपना काम 9 दिसम्बर 1946 से करना शुरू कर दियाrepublic day india constitution.

republic day india information गणतंत्र दिवस समारोह कैसे मनाया जाता है?

गणतंत्र दिवस समारोह को देश के सर्वोच्च पद राष्ट्रपति की अगुआई में मनाया जाता है क्योंकि वे इस देश के संवैधानिक प्रमुख होते हैं. दिन की शुरूआत होती है दिल्ली के राजपथ republic day india gate पर जब राष्ट्रपति अपने बग्घी में परम्परागत तरीके से अपनी घुड़सवार दल के साथ प्रवेश करते हैं.
इसके बाद वे झंडारोहण republic day indian flag करते हैं और राष्ट्रगान होता है. इसके बाद तीनो सेनाओं के प्रमुख होने के कारण तीनों सेनाए उनको भव्य परेड के माध्यम से सलामी देती है. इस दिन भारत के राष्ट्रपति अपना देश के नाम संबोधन देते है और इससे पहले वे दूरदर्शन के माध्यम पूर्व संध्या पर देश के लोगों को अपना संदेश republic day speech by indian president देते हैं.
परेड के बाद रंगारंग और सांस्कृतिक कार्यक्रमों का आयोजन होता, जिसमें विभिन्न विद्यालयों और संगठनों से आए हुए बच्चे अपनी प्रस्तुती के माध्यम से देशभक्ति की अलख जगाते है. इस दिन के लिए भारत सरकार एक मुख्य अतिथि को आमंत्रित करती है जो किसी देश के सर्वोच्च पद पर आसीन होता है.
इसके अलावा देश भर में विभिन्न सरकारी इमारतों को रोशनी से सजाया जाता है, झंडारोहरण होता है, फल व मिठाइयों का वितरण होता है और स्कूल और काॅलेजों में भी देश भक्ति से ओत-प्रोत कार्यक्रमों का आयोजन होता है.

भारत का राष्ट्रगान

राष्ट्रगान

जन गण मन अधि नायक जय हे!
भारत भाग्य विधाता
पंजाब सिंध गुजरात मराठा,
द्राविण उत्कल बंग।

 

विंध्य हिमाचल यमुना गंगा,
उच्छल जलधि तरंग
तव शुभ नामे जागे,
तव शुभ आशिष मागे,
गाहे तव जय-गाथा।
जन-गण-मंगलदायक जय हे!
भारत भाग्य विधाता।
जय हे! जय हे! जय हे!
जय जय जय जय हे!
– रवींद्र नाथ ठाकुर

 

ecard republic day, egreetings republic day, republic day india essay hindi, republic day india essay pdf, republic day india first, republic day india unknown facts, republic day songs indian free download, republic day speech for india, republic day of india, republic day india greetings, republic day india hindi, republic day india highlights, republic day india hindi speech, republic day india in hindi

भारत का राष्ट्रगीत

वंदे मातरम

वंदे मातरम,
वंदे मातरम
सुजला सुफला मलयज-शीतलाम
शश्य-शामलाम मातरम
वंदे मातरम
शुभ्र-ज्योत्स्ना-पुलकित यामिनी
फुललकुसुमित-द्रुमदल शोभिनी
सुहासिनीं सुमधुर भाषिनीं
सुखदां वरदां मातरम
वंदे मातरम
– बंकिमचंद्र चट्टोपाध्याय
ecard republic day, egreetings republic day, republic day india essay hindi, republic day india essay pdf, republic day india first, republic day india unknown facts, republic day songs indian free download, republic day speech for india, republic day of india, republic day india greetings, republic day india hindi, republic day india highlights, republic day india hindi speech, republic day india in hindi

देश भक्ति गीत

सारे जहाँ से अच्छा

सारे जहाँ से अच्छा
हिंदुस्तान हमारा
हम बुलबुलें हैं उसकी
वो गुलसिताँ हमारा।
परबत वो सबसे ऊँचा
हमसाया आसमाँ का
वो संतरी हमारा
वो पासबाँ हमारा।
गोदी में खेलती हैं
जिसकी हज़ारों नदियाँ
गुलशन है जिनके दम से
रश्क-ए-जिनाँ हमारा।
मज़हब नहीं सिखाता
आपस में बैर रखना
हिंदी हैं हम वतन है
हिंदुस्तान हमारा।
– मुहम्मद इक़बाल

मेरे देश की धरती

मेरे देश की धरती सोना उगले उगले हीरे मोती

मेरे देश की धरती
बैलों के गले में जब घुँघरू जीवन का राग सुनाते हैं
ग़म कोस दूर हो जाता है खुशियों के कंवल मुसकाते हैं
सुन के रहट की आवाज़ें यों लगे कहीं शहनाई बजे
आते ही मस्त बहारों के दुल्हन की तरह हर खेत सजे
मेरे देश की धरती सोना उगले उगले हीरे मोती
मेरे देश की धरती
जब चलते हैं इस धरती पे हल ममता अँगड़ाइयाँ लेती है
क्यों ना पूजे इस माटी को जो जीवन का सुख देती है
इस धरती पे जिसने जनम लिया उसने ही पाया प्यार तेरा
यहाँ अपना पराया कोई नही हैं सब पे माँ उपकार तेरा
मेरे देश की धरती सोना उगले उगले हीरे मोती
मेरे देश की धरती
ये बाग़ हैं गौतम नानक का खिलते हैं अमन के फूल यहाँ
गांधी, सुभाष, टैगोर, तिलक ऐसे हैं चमन के फूल यहाँ
रंग हरा हरिसिंह नलवे से रंग लाल है लाल बहादुर से
रंग बना बसंती भगतसिंह रंग अमन का वीर जवाहर से
मेरे देश की धरती सोना उगले उगले हीरे मोती
मेरे देश की धरती
– गुलशन बावरा

 

अरुण यह मधुमय देश

अरुण यह मधुमय देश हमारा।
जहाँ पहुँच अनजान क्षितिज को
मिलता एक सहारा।
सरस तामरस गर्भ विभा पर
नाच रही तरुशिखा मनोहर।
छिटका जीवन हरियाली पर
मंगल कुंकुम सारा।।
लघु सुरधनु से पंख पसारे
शीतल मलय समीर सहारे।
उड़ते खग जिस ओर मुँह किए
समझ नीड़ निज प्यारा।।
बरसाती आँखों के बादल
बनते जहाँ भरे करुणा जल।
लहरें टकरातीं अनंत की
पाकर जहाँ किनारा।।
हेम कुंभ ले उषा सवेरे
भरती ढुलकाती सुख मेरे।
मदिर ऊँघते रहते जब
जग कर रजनी भर तारा।।
– जयशंकर प्रसाद

republic day quotes for india गणतंत्र दिवस पर शुभकामनाएं

➤ देश के गणतंत्र दिवस के पावन पर्व पर आप सभी को मुबारक बाद.
republic day indian flag wallpaper
ecard republic day, egreetings republic day, republic day india essay hindi, republic day india essay pdf, republic day india first, republic day india unknown facts, republic day songs indian free download, republic day speech for india, republic day of india, republic day india greetings, republic day india hindi, republic day india highlights, republic day india hindi speech, republic day india in hindi

 

➤ गणतंत्र दिवस के इस महान अवसर पर मैं आप को बधाई देता हूं और कामना करता हूं कि मेरा देश आगे बढ़े, प्रगति करें।
republic day india images free download
ecard republic day, egreetings republic day, republic day india essay hindi, republic day india essay pdf, republic day india first, republic day india unknown facts, republic day songs indian free download, republic day speech for india, republic day of india, republic day india greetings, republic day india hindi, republic day india highlights, republic day india hindi speech, republic day india in hindi

republic day of india e-cards

➤ भारत के गणतंत्र का सारे जग में मान बढ़े, भारत एक बार फिर विश्व गुरू बने और पूरी दुनिया का मार्गदर्शन करे, इन्हीं शुभकामनाओं के साथ आपको गणतंत्र दिवस की मुबारक बाद.

republic day quotes by indian leaders

➤ सभी हिंदुस्तानियों को हिंदुस्तान के गणतंत्र दिवस हार्दिक बधाइयां.

➤ आप सभी के लिए यह गणतंत्र नई खुशियां और उम्मीद लेकर आए. हमारा संविधान और सुदृढ़ हो और हमारा लोकतंत्र और परिपक्व हो, इन्हीं कामनाओं को आपको ढेर सारी बधाईयां.

➤ गणतंत्र दिवस के इस पावन अवसर पर स्वतंत्रता के सभी बलिदानियों को याद करते हुए—वन्दे मातरम्.

➤ गणतंत्र दिवस के इस अवसर पर मेरी आपसे अपील है कि हम सच्चे भारतवासी बने और नागरिक के तौर पर इस देश को अपना सर्वश्रेष्ठ दे.

➤ इंसान का इंसान से हो भाईचारा यही संदेश हमारा— जय हिंद.

गणतंत्र दिवस पर भाषण हिन्दी में Speech of Republic Day in Hindi

प्रिय भाइयों और बहनों,
➤ आज का दिन बहुत ही महान है क्योंकि आज हमारा देश सही मायनो में गणतंत्र घोषित हुआ था और हमारे देश के नागरिकों को उनके संवैधानिक अधिकार प्राप्त हुए थे.
➤ इस दिन को देखने के लिए हमारे देश के लाखों स्वतंत्रता सेनानियों ने अपना सर्वस्व अर्पित कर दिया.
➤ आज के दिन उनके बलिदान को याद करते हुए हम उन्हें नमन करते हैं और प्रण लेते हैं कि उनके नक्शेकदम पर चलते हुए हम अपने देश के विकास के लिए पूरे मनोयोग से काम करेंगे.
➤ आज 26 जनवरी के दिन हमें जहां संवैधानिक ​अधिकार प्राप्त हुए हैं, वहीं हम देशवासियों को हमारा संविधान कुछ कर्तव्य भी देता है.
➤ हमें अपने अधिकारों के उपयोग के साथ ही अपने कर्तव्यों की पूर्ति के लिए भी प्रतिज्ञाबद्ध होना होगा तभी सही मायनो में हम अपने संविधान की आत्मा के साथ न्याय कर पाएंगे.
➤ हमारे संविधान में मूल अधिकारो, मूल कर्तव्यों के साथ ही नीति निर्देशक तत्वों की बात भी की गई है जिसे न सिर्फ राज व्यवस्था बल्कि हमे नागरिक व्यवस्था में भी लागू करना होगा.
➤ आज के दिन हमें प्रण लेना होगा कि हम अपने देश में लोकतंत्र की नींव और मजबूत करेंगे और अत्याचार तथा अनाचार के खिलाफ और सत्य के पक्ष में अपनी बात रखेंगे.
➤ हमें प्रतिज्ञा लेनी होगी कि हम अपने रोजमर्रा के जीवन में एक बेहतर नागरिक बनने का प्रयास करेंगे, सभी नियमों का पालन करेंगे और अपने आस—पास के लोगों को भी इसके लिए प्रेरित करेंगें.
➤ हमें एक बात याद रखनी चाहिए कि एक सभ्य नागरिक ही एक महान देश का निर्माण करता है.
➤ पूरी दुनिया को यह बताने के लिए हमारा भारत देश महान सभ्यता और संस्कृति की विरासत को संभाल सकता है, अपने देश के सार्वजनिक स्थानों की साफ—सफाई पर विशेष ध्यान देंगे.
➤ हमें यह नहीं भूलना चाहिए कि इस आजादी और इन संवैधानिक अधिकारों के लिए हमने बहुत संघर्ष किया है और इसे बनाये रखने के लिए हमें अपना सर्वश्रेष्ट देना होगा.
➤ एक नागरिक के तौर अपनी भूमि की सेवा करने का कोई अवसर नहीं छोड़ना होगा तभी हम इस वतन के सच्चे सपूत बन पाएंगे.
➤ आज इस महान अवसर पर मैं आप सबका आवाहन करता हूं कि आइए! अपने देश को विकास के महामार्ग पर ले चलने के लिए हम सब मिलकर प्रयास करें और भारत को एक बार दुनिया का विश्व गुरू बनाने का सपना साकार करें.
जय हिंद!
यह भी पढ़ें:

0 Comments

Add Yours →

Leave a Reply