hindi muhavare with meanings and sentences -उ से शुरू होने वाले मुहावरे, अर्थ और वाक्यों में प्रयोग

Hindi Muhavare with Meanings and Sentences- हिंदी मुहावरा कोष

मुहावरे की परिभाषा—क्या होते हैं मुहावरे?

मुहावरे भाषा को सुंदर और लावण्यमय बनाने का काम करते हैं. मुहावरों की मदद से एक लंबी और नीरस बात को रोचक बनाया जा सकता है. बहुधा अभिधा, लक्षणा और व्यंजना शब्दशक्तियों के उपयोग से मुहावरों का निर्माण किया जाता है. मुहावरे और लोकोक्तियां लोक मानस द्वारा निर्मित छोटी कविताएं हैं जो कम शब्दों में बड़ी बात कहने में सहायता करती है.

Muhavare in Hindi – उ से शुरू होने वाले मुहावरे

मुहावरा: उंगली उठाना.
अर्थ: लोगों की निन्दा या प्रशंसा का लक्ष्य होना. 
वाक्य में प्रयोग:उंगली उठेगी मुझ पर हर दम बहादुरों की.
 
मुहावरा: उंगली उठाना.
अर्थ: दोषारोपण करना.
वाक्य में प्रयोग:किसी की मजाल है जो उस सती के चरित्र पर उंगली भी उठा सके.
 
मुहावरा:उंगली पकड़ते पहुंचा पकड़ना.
अर्थ:थोड़ा सा सहारा पाकर सब पर अधिकार जमा लेना. 
वाक्य में प्रयोग:मैंने तुम्हें बरामदे में थोडी सी जगह दी, पर अब तुमने सारे घर में आसन जमा लिया है, भाई उंगली पकड़ते पहुंचा पकढ़ना ठीक नहीं है.
 
मुहावरा:उंगली पर नचाना.
अर्थ:वश में रखना.
वाक्य में प्रयोग:भाभी हमारे भैया को उंगली पर नचाती है.
 
मुहावरा:उगल देना.
अर्थ:भेद प्रकट करना.
वाक्य में प्रयोग:थोड़ी सी मार पड़ते ही उसने सब कुछ उगल दिया.
 
 
मुहावरा:उठ जाना.
अर्थ:मर जाना.
वाक्य में प्रयोग:बड़े-बड़े इस संसार से उठ गये.
 
मुहावरा:उठना बैठना.
अर्थ:मेल जोल होना.
वाक्य में प्रयोग: इनका उठना-बेठना बडे़ लोगों में है.
 
मुहावरा:उठा न रखना.
अर्थ:कसर न छोड़ना.
वाक्य में प्रयोग:उसकी नौकरी के लिए मैंने पूरा यत्न किया है, अपनी ओर से कुछ उठा नहीं रखा, आगे उसकी किस्मत.
 
मुहावरा:उड़ती चिड़िया पहचानना.
अर्थ:दिल की बात समझना.
वाक्य में प्रयोग:अजी हम से चाल न करो, हम उड़ती चिड़ियां पहचानते है.
 
मुहावरा:उधार खाये बैठना.
अर्थ:ताक में रहना.
वाक्य में प्रयोग:आप तो उसका बुरा करने के लिए उधार खाये बैठे है.
 
मुहावरा:उधेड़—बुन
अर्थ:सोच विचार करना.
वाक्य में प्रयोग:पतिदेव अब तक क्यों नहीं आये, इसी उधेड़-बुन में बेचारी ने सारी रात आंखों में काट दी.
 
मुहावरा:उन्नीस-बीस होना.
अर्थ:एक का दुसरे से कुछ अच्छा होना.
वाक्य में प्रयोग:मैंने दोनों धोतियां देखी है, कुछ उन्नीस-बीस है.
 
मुहावरा:उल्टी गंगा बहना.
अर्थ:विपरीत बात करना.
वाक्य में प्रयोग:आप तो हर बात पर उलटी गंगा बहाते हैं.
 
लोकोक्ति:उखली में सिर दिया तो मूसलों का क्या डर.
अर्थ:जब किसी कठिन काम करने का व्रत ले लिया तो फिर उसमें आने वाली विपत्तियों से क्या डरना.
वाक्य में प्रयोग:पिकेटिंग करने जा तो रहे हो पर आज खूब लाठी बरसेगी। अच्छा! जब देश पर बलिदान होने को तैयार हो गये हैं तो ढर काहे का, उखली में सिर दिया तो मूसलों का क्या डर.
 
लोकोक्ति:उतर गई लोई तो क्या करेगा कोई.
अर्थ:प्रतिष्ठा भंग हो जाने पर जब कोई निधड़क हो जाता है तब.
वाक्य में प्रयोग:मान-मर्यादा तो उसी दिन हा दी थी जिस दिन पे्रम किया था, अब कोई पड़ा निन्दा करे, हमारा क्या बिगड़ता है, उतर गई लोई तो क्या करेगा कोई.
 
लोकोक्ति:उधार का खाना और फूस का तापना बराबर है.
अर्थ:ज्यादा देर तक न टिकना.
वाक्य में प्रयोग:जैसे फूस की आग ज्यादा देर तक नहीं टिकती वैसे ही उधार लेकर खाना भी अधिक दिनों तक नहीं चलता.
 
लोकोक्ति:उधार दिया ग्राहक खोया.
अर्थ:उधार वापस नहीं होता है.
वाक्य में प्रयोग:जब दुकानदार उधार दी हुई वस्तु के पैसे मांगेगा तब ग्राहक पास फटकेगा ही नहीं
 
लोकोक्ति:उन्नीस-बीस का तो फर्क होता ही है.
अर्थ:संसार में दो चीजें बिलकुल एक-सी नहीं होतीं, थोड़ा बहुत फर्क होता ही है.
वाक्य में प्रयोग: आप भी पहले वाला माल मांग रहे हैं, जनाब उन्नीस-बीस का तो फर्क होता ही है.
 
लोकोक्ति:उपजहिं एक संग जल माहीं, जलज जोंक जिमि गुणा बिलगाहीं.
अर्थ:एक मनुष्य की सब संतानें एक-सी स्वभाव की नहीं होतीं
वाक्य में प्रयोग: देखिए दो भाइयों में एक चोर बना है और दूसरा संत.
 
लोकोक्ति:उलटा चोर कोतवाल को डांटे.
अर्थ:अपना अपराध स्वीकार तो न करना, उलटा पूछनेवाले पर दोष लगाना.
वाक्य में प्रयोग:मेज पर न रखता तो क्या तुम्हारे सिर पर रखता? एक तो पच्चीस रूपये की घड़ी गायब कर ली और दूसरे नुकता-चीनी! आया है चालाक! हुं, उलटा चोर कोतवाल को डांटे.
 
लोकोक्ति:उलटे बांस बरेली को.
अर्थ:उलटा काम करना.
वाक्य में प्रयोग:आपको करने को क्या कहा था, कर क्या दिया आप भी उलटे बांस बरेली के हैं.
 
लोकोक्ति:ऊंची दुकान फीका पकवान.
अर्थ:तत्व कुछ न हो आडंबर बहुत हो.
वाक्य में प्रयोग:भाई ये जनाब तो बातें बड़ी करते थे लेकिन जरूरत के वक्त काम नहीं आए. ऊंची दुकान फीका पकवान.
 
लोकोक्ति:ऊंट किस करवट बैठता है.
अर्थ:देखें क्या फैसला होता है.
वाक्य में प्रयोग:फैसले की बाट जोहते-जोहते कई दिन हो गये, पर अभी पता नहीं कि ऊंट किस करवट बैठता है.
 
लोकोक्ति:ऊंट की चोरी और झुके-झुके.
अर्थ:बडे़ काम छिपकर नहीं किए जा सकते हैं.
वाक्य में प्रयोग:जब कोई पूछता है तो झेंपते क्यों हो? स्पष्ट कह दो कि सिनेमा जा रहे हैं। यह तो नहीं हो सकता कि बाबू जी को तुम्हारे जाने का पता न लगे, आज नहीं तो कल पता लग जायगा, सो यह ठीक नहीं कि ‘ऊंट की चोरी और झुके-झुके.
 
लोकोक्ति:ऊंट के मुंह में जीरा.
अर्थ:बहुत खाने वाले को थोड़ी सी चीज दी जाने पर.
वाक्य में प्रयोग:अरे, इन चौबे जी को केवल दो कचौड़ी दीं? अरे ये तो ऊंट के मुंह में जीरा है.
 
लोकोक्ति:ऊंट रे ऊंट तेरी कौन-सी कल सीधी.
अर्थ:जिसमें कपट ही कपट भरा हो या बेडोल आदमी पर भी.
वाक्य में प्रयोग:किसी ने कहा था कि ऊंट रे ऊंट तेरी कौन-सी कल सीधी सो तुम हो, जो मां को धोखा देने से भी नहीं रूके औरें की तो बात ही क्या?
 
लोकोक्ति:ऊधों का लेना न माधों का देना.
अर्थ:निश्चित होना.
वाक्य में प्रयोग:हम से तो ये फकीर अच्छे, टांग पसार कर सोते हैं, ऊधों का लेना न माधों का देना.
 
Tags: aankh par muhavare, general knowledge, hindi muhavare with meanings and sentences on topic, hindi muhavare with meanings and sentences pdf, muhavare and lokoktiyan in hindi, muhavare in hindi with pictures

 

 

 
यह भी पढ़ें:

 

0 Comments

Add Yours →

Leave a Reply