space tourism in hindi – अंतरिक्ष पर्यटन

अंतरिक्ष पर्यटनः संभावनाओं के आकाश पर पैकेज की नजर

अंतरिक्ष पर्यटन- space tourism का विचार उस समय से है, जब से मनुष्य ने अंतरिक्ष में पहुंचने का विचार शुरू किया. अंतरिक्ष में मानव पहुंच ने इस विचार को और ज्यादा बल दे दिया. समकालीन लेखकों की कृतियों में भी इस विचार को ज्यादा स्वीकार्य बना दिया. आर्थर सी. क्लार्क की ए फाॅल आफ मूनडस्ट और 2001ः अ स्पेस ओडिसी, जोना रस की पुस्तक पिकनिक आन पैराडाइज और लैरी निवान की कथाओं ने आदमी को इस सपने को सच करने का रास्ता दिखाया. space tourism posters

अंतरिक्ष पर्यटन- space tourism definition

20 वीं शती के आखिर में ढेरों दावें किए गए कि इक्कीसवीं सदी में आप अपने परिवार के साथ चांद पर छुट्टियां बिताने जा सकते हैं. एक कंपनी ने तो चांद पर जमीन बेचने की कवायद तक शुरू कर दी. पैन एम ने तो 1960 में ही चांद की फ्यूचर फ्लाइट्स के लिए वेटिंग लिस्ट जारी कर दी और मून फ्लाइट क्लब के कार्ड भी जारी किए 

अंतरिक्ष पर्यटन के गंभीर प्रयास space tourism companies

अंतरिक्ष पर्यटन- space tourism का मूल उद्देश्य नई चीजों की खोज से परे विशुद्ध व्यवसाय है जिसमें अभी तक दुनिया के शीर्ष उद्योगपतियों ने ही अपनी रूचि दिखाई है. पिछले कुछ सालों में इस विचार को लेकर कई संस्थाएं काम कर रही हैं. वर्जिन गैलेक्टिक के अलावा एक्सकोर एअरोस्पेस भी इस क्षेत्र में काम कर रही एक प्रमुख कंपनी है. 

अंतरिक्ष पर्यटन- space tourism facts

फिलहाल यह कंपनीज सब आर्बिटल स्पेस टूरिज्म इंडस्ट्री पर अपना फोकस रख रही हैं क्योंकि आर्बिटल से बाहर आदमी को भेजने का खर्च बहुत ज्यादा होता है और इस तरह के ग्राहक मिलने की संभावना कम होती है जो कम मुनाफे वाला सौदा है. फिलहाल स्थिति यह है कि कि इनमें से किसी भी एजेन्सी को अब तक इसमें सफलता नहीं मिली है. 
अंतरिक्ष पर्यटन- space tourism cost. 
इस क्षेत्र में सफलतापूर्वक काम करने वाली एकमात्र रशियन स्पेस एजेंसी है जो कई अंतरिक्ष पर्यटकों को अंतरिक्ष की सैर करवा चुकी है. इस एजेंसी के लिए स्पेस एडवेंचर नाम की ब्रोकर एजेंसी काम करती है जो 20 से 40 मिलियन डाॅलर में सोयूज स्पेसक्राफ्ट की सहायता से अंतराष्ट्रीय स्पेस स्टेशन की सैर करवाती है. 
अब तक 7 लोगों को अंतरिक्ष पर्यटन का मौका मिला है. 2010 में रूस ने अपने अंतरिक्ष पर्यटन को रोक दिया क्योंकि इससे उसके अंतराष्ट्रीय अंतरिक्ष स्टेशन के क्रू का साइज बढ़ जाता था. इसे फिर से 2015 में शुरू किए जाने का संभावना है. space tourism spacex

यह भी पढ़ें:

अंतरिक्ष पर्यटन- space tourism के शुरूआती प्रयास  space tourism history

आधिकारिक तौर पर डेनिस टीटो को पहला अंतरिक्ष पर्यटक माना जाता है लेकिन इससे पहले भी कई गैर अधिकारिक व्यक्ति अंतरिक्ष उड़ान का मजा उठा चुके हैं. इसकी शुरूआत 1984 से होती है. चार्ल्स डी वाॅकर पहले नाॅन गर्वमेंटल एस्ट्रोनाॅट थे जिन्हें अंतरिक्ष यान में उड़ान भरने का मौका मिला. उनके लिए उनकी कंपनी मैकडाॅनेल डगलस ने 40 हजार डाॅलर की राशि अदा की थी. नासा ने भी अपने कांग्रेसमैन जेक गर्न को 1985 के दौरान अपने शटल से उड़ान भरने का मौका दिया. इसी क्रम में नासा ने 1986 में एक और जनप्रतिनिधि बिल नेलसन को भी यही मौका दिया. 
नासा ने भी अपने स्पेस शटल प्रोग्राम को एक्सपेंड करने के लिए 1980 में एक स्पेस फ्लाइट पार्टिशिपेंट प्रोग्राम में आम लोगों के शुरू किया था जिसमें वैज्ञानिकों और और सरकारी नुमाइंदों से भिन्न आम आदमी को अंतरिक्ष की यात्रा करवाई जाएगी. 1985 में 11,400 लोगों में से क्रिस्टा मैकआल्फी को चुना गया लेकिन चैलेंजर यान दुर्घटना space tourism accident में मैकेल्फी की मौत हो गई और 1986 में इस प्रोग्राम को ही रद्द कर दिया गया. 

अंतरिक्ष पर्यटन- space tourism future

1970 के दौरान राॅकवेल इंटरनेशनल ने एक ऐसे रिमूवेबल केबिन का प्रारूप प्रस्तुत किया जिसमें 74 अंतरिक्ष यात्री एक साथ यात्रा कर सकते थे और लगातार तीन दिन तक अंतरिक्ष में रह सकते थे. इसी तरह के केबिन के ढेरों विचार और कई दूसरी एजेन्सियों ने भी दिए और उसे मूर्त रूप देने की कोशिश भी की जा रही है. इस तरह के केबिन कान्सेप्ट अंतरिक्ष यात्रा को सस्ता और आम आदमी के लिए सुलभ बनाने की दिशा में बड़ा कदम साबित होंगे.

अंतरिक्ष पर्यटन- space tourism essay

नेशनल स्पेस एजेंसी ने 1985 में ही एक ऐसा प्रोजेक्ट तैयार किया था कि इसके सफल होने पर आने वाले सालों में अंतरिक्ष यात्रा का खर्च 25 हजार डाॅलर तक सीमित हो जाएगा. इसी प्रोजेक्ट में उम्मीद की गई है कि आने वाले पचास सालों में चांद की सतह एक पर्यटन स्थल की तरह उपयोग में ली जा सकेगी. space tourism articles

space tourism examples अरबपति अंतरिक्ष पर्यटक space tourism celebrities

डेनिस टीटोः डेनिस टीटो dennis tito space tourist एक अमेरिकी इंजीनियर और अरबपति हैं. इन्हें पहले अंतरिक्ष पर्यटक के तौर पर मान्यता दी गई है, जिन्होंने अपने खर्च पर अंतरिक्ष की सैर की. इससे पहले गए सभी गैर अधिकारिक यात्री किसी फर्म या सरकार द्वारा प्रायोजित होते थे. 2001 में डेनिस टीटो ने सोयूज यान से अंतरिक्ष का सफर किया और आठ दिन स्पेस में बिताए. 
मार्क रिचर्ड शटलवर्थः मार्क मूल रूप से एक दक्षिण अफ्रीकी बिजनेसमैन है. इन्होंने दूसरा अंतरिक्ष यात्री बनने के लिए सात माह की ट्रेनिंग ली ओर बीस मिलियन डाॅलर खर्च कर अंतरिक्ष में आठ दिन बिताए. 
ग्रेगरी हेमोन्ड ‘ग्रेग‘ ओल्सनः अमेरिकी बिजनेसमैन, इंजीनियर और वैज्ञानिक ग्रेग ओल्सन अक्टूबर, 2005 में अपने खर्च पर स्पेस की यात्रा करने वाले तीसरे अंतरिक्ष यात्री बने. ओल्सन को इस यात्रा पर लगभग 20 मिलियन डाॅलर खर्च करने पड़े. वे सोयूज अंतरिक्षयान से अंतराष्ट्रीय स्पेस स्टेशन पर गए.
अनुशेह अंसारीः अंसारी को पहली महिला अंतरिक्ष पर्यटक बनने का गौरव प्राप्त हुआ. वे कुल मिलाकर चौथी अंतरिक्ष पर्यटक बनी. वे पहली ईरानी भी थी जिन्हें अंतरिक्ष में जाने का मौका मिला. पेशे से इंजीनियर अनुशेह अंसारी 18 अक्टूबर, 2006 को अंतरिक्ष में गईं.
चार्ल्स सिमोनीः चार्ल्स हंगरी के नागरिक हैं. पेशे से साॅफ्वेयर डवलपर चार्ल्स अपने खर्च पर दो बार स्पेस की यात्रा की. ऐसा करने वाले वे पहले पर्यटक है. हंगरी के वे दूसरे नागरिक हैं जिन्हें स्पेस में जाने का मौका मिल़ा. अंतरिक्ष में जाने वाले वे पांचवे पर्यटक है. चार्ल्स ने अप्रैल, 2007 और मार्च, 2009 में अंतरिक्ष की यात्रा की.  
रिचर्ड गैरियेटः अंतरिक्ष में जाने वाले छठे पर्यटक रिचर्ड गैरियेट पेशे से विडियो गेम डवलपर और एन्टरप्रेन्योर है. 12 अक्टूबर, 2008 में सोयूज टीएमए-13 की सहायता से गैरियेट अंतराष्ट्रीय अंतरिक्ष स्टेशन पहुंचे और अंतरिक्ष में 12 दिन बिताए. 
गाय लालीबर्टः कनाडा के करोड़पति गाय लालीबर्ट सातवें अंतरिक्ष पर्यटक बने. सितम्बर, 2009 में अंतरिक्ष के पर्यटन पर निकलने वाले लालीबर्ट पहले कनाडाई थे. उन्होंने अपनी यात्रा को पोएटिक सोशल मिशन कहा और इसे वाॅटर इश्यूज के अवेयरनेस के लिए समर्पित कर दिया.

0 Comments

Add Yours →

Leave a Reply