kargil vijay diwas in Hindi कारगिल विजय दिवस

कारगिल विजय दिवस से जुड़े तथ्य  

Kargil Vijay divas-हिंदी हाट के सभी रीडर्स को कारगिल विजय दिवस की हार्दिक बधाई हिंदी हाट उन वीर सपूतों को भी सलाम करता है जिन्होंने कारगिल युद्ध में अपना सर्वोच्च बलिदान दिया.
भारतीय सेना ने आज के दिन यानी 26 जुलाई 1999 को कश्मीर के कारगिल में पाकिस्तानी घुसपैठियों द्वारा कब्जा की गई. हमारी ऊंची रक्षा चौकियों पर नियंत्रण पाने में सफलता हासिल की थी, आज ही के दिन भारतीय सैनिकों ने संपूर्ण चौकियों से पाकिस्तान को खदेड़ दिया था. जिसके लिए भारतीय सेना ने 2 से 3  महीने तक ऑपरेशन विजय चलाया था.  भारत पाकिस्तान के बीच कारगिल युद्ध मई 1999 शुरू होकर जुलाई तक चला जिसमें हमारे 500 से अधिक सैनिकों ने अपना सर्वोच्च बलिदान दिया ऑपरेशन विजय की सफलता के बाद इस दिन को कारगिल विजय दिवस का नाम दिया गया और संपूर्ण विश्व के इतिहास में कारगिल युद्ध दुनिया के सबसे ऊंचे क्षेत्र में लड़ी जंग की घटनाओं में शामिल है.

कारगिल विजय दिवस कारगिल विजय दिवस शहीदों की याद में मनाया जाता है आज के दिन  शहीदों को याद कर श्रद्धा सुमन अर्पित किया जाता है जिन्होंने हंसते-हंसते हमारी भारत माता की रक्षा करते हैं सर्वोच्च बलिदान दिया और वीरगति को प्राप्त हुआ और आज उन्हीं के बलिदान के कारण हम लोग सुरक्षित हैं हमारा कश्मीर सुरक्षित है आज के दिन ना केवल सरकार और सेना के स्तर पर बल्कि आम जनता भी कारगिल विजय दिवस को बड़े ही हर्षोल्लास से मनाती है जगह-जगह श्रद्धांजलि सभाओं का और सम्मान सभाओं का आयोजन होता है.

Kargil Timeline in hindi

करगिल युद्ध भारतीय और पाकिस्तानी सेनाओं के बीच मई-जुलाई 1999 में कश्मीर के करगिल जिले में और नियंत्रण रेखा के साथ (एलओसी) लड़ी गईं। भारत ने नियंत्रण रेखा के भारतीय पक्ष पर पाकिस्तानी सैनिकों और कश्मीरी उग्रवादियों द्वारा घुसपैठ की कारगिल क्षेत्र को साफ़ करने के लिए ‘ऑपरेशन विजय’ का शुभारंभ किया।

 

वर्ष 1999—

4 मई: कारगिल की ऊंचाई पर घुसपैठियों की रिपोर्ट

5-15 मई: सेना के गश्ती दल को सर्वेक्षण के लिए भेजा। कप्तान सौरभ कालिया गायब हो गए

26 मई: भारतीय वायु सेना ने हवाई हमलों की शुरूआत की।

27 मई: आईएएफ मिग -27 गिरता है और और पाकिस्तान पायलट को बंदी बना लेता है

31 मई: प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी कारगिल में “युद्ध जैसी स्थिति” कह कर करगिल युद्ध की घोषणा करते हैं।

10 जून: पाकिस्तान ने छह सैनिकों के क्षत—विक्षत शव वापस किए। भारत में इसको लेकर भारी नाराजगी।

12 जून: दिल्ली में विदेश मंत्री जसवंत सिंह और सरताज अजीज के बीच पहले बैठक में गतिरोध।

15 जून: अमेरिकी राष्ट्रपति बिल क्लिंटन ने कारगिल से सैनिकों को निकालने के लिए पाकिस्तान के प्रधान मंत्री से आग्रह किया।

29 जून: सेना ने टाइगर हिल के पास दो महत्वपूर्ण पोस्ट पर कब्जा कर लिया

4 जुलाई: टाइगर हिल पर कब्जा कर लिया। नवाज शरीफ ने वाशिंगटन में क्लिंटन से मुलाकात की।

5 जुलाई: शरीफ ने कारगिल से पाकिस्तानी सैनिकों के वापस लौटने की घोषणा की

11 जुलाई: पाकिस्तान के घुसपैठियों ने वापस भागना शुरू किया।

14 जुलाई: भारत ने ऑपरेशन विजय की सफलता की घोषणा की।

26 जुलाई: कारगिल युद्ध समाप्त हो गया। भारत ने पाकिस्तानी सैनिकों के पूर्ण बेदखली की घोषणा की।

यह भी पढ़ें –

0 Comments

Add Yours →

Leave a Reply